अजय देवगन की 20-25 लोगों ने मिलकर 10 मिनट तक की खूब पिटाई, बाद में पिता ने बचाई थी जान

अजय देवगन यू तो बॉलीवुड के सिंघम है। उनके रफ एंड टफ लुक से अच्छे-अच्छे डर जाते है। वो अक्सर बड़े पर्दे पर अक्सर शानदार एक्शन करते नजर आते है और उनके इन किरदारों को खूब पसंद भी किया जाता है। उनके जबरस्त स्टंट और एक्शन की ऑडियंस पर ऐसी धाक जमीं है कि अब जब भी अजय देवगन की कोई एक्शन फिल्म रिलीज होती है तो दर्शकों की भीड़ थिएटर में जुट जाती है। वीरु देवगन के बेटे अजय देवगन को शुरू से ही एक्शन और स्टंट का काफी शौक रहा है। ये ही वजह है कि कॉलेज के दिनों में हीरोगिरी दिखाने के लिए उन्होंने कई लोगों को मारा भी है और कई लोगों से मार भी खाई है। अजय के साथ एक हादसा तो ऐसा हुआ था जब 25-30 लोगों का झुंड उन्हें मारने को दौड़ पड़ा था। इस किस्से को खुद अजय देवगन ने शेयर किया था। आपको बता दें कि अजय देवगन ने एक शो मे कहा था कि, एक्टर होने से पहले मेरा बहुत लोगों से झगड़ा हुआ है। बहुत लोगों को मारा भी और बहुत लोगों से मार खाई भी। एक बार तो 20-25 लोगों ने मिलकर मारा था। उस वक्त साजिद खान भी अजय देवगन के साथ वहां मौजूद थे। साजिद ने बताया कि, अजय देवगन की एक सफेद जीप थी जिसमें हम सब घूमते थे। हॉलीडे होटल के करीब एक पतली गली थी। हम गाड़ी लेकर जा रहे जा रहे थे वहीं हमारे जीप के सामने तेजी से पतंग के पीछे भागता हुआ एक बच्चा आ गया। अजय ने तुरंत ब्रेक लगा दिया। बच्चा गाड़ी के नीचे आने से बच गया और उसे चोट भी नहीं लगी। हालांकि इस हादसे से वो डर गया और रोने लगा।  ऐसे में पड़ोस से लोग आ गए। पता नहीं झुंड में कहां से इतने लोग आ गए और हमें घेर लिया। हम लोग उन्हें बहुत समझाने की कोशिश करते रहे, लेकिन वो हम पर चिल्लाने लगे। उन्होंने कहा कि तुम अमीर लोग, गाड़ी तेज चलाते हो। हमें समझ नहीं आया और लोग हमें मारने लगे।श् साजिद ने कहा कि, 10 मिनट तक हमारी पिटाई हुई तब तक अजय देवगन के पिता को इस घटना की खबर हो गई और वो करीब 150 फाइटर के साथ अपने बेटे को बचाने आए। इस तरह से साजिद, अजय और उनके दोस्तों की जान बची। हालांकि फिल्मों में आने के बाद उन्होंने सारा एक्शन सिर्फ पर्दे पर ही किया।