WTC Final: रवींद्र जडेजा के आउट होने के बाद भड़के फैन्स

आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के फाइनल में दो दिनों तक बारिश के कारण खेल रोके जाने के बाद भी न्यूजीलैंड ने रिजर्व डे यानि के छठे दिन भारत को आठ विकेट से हराकर खिताब जीत लिया। न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने 106 रन के अंदर ही भारत के आठ विकेट आउट करके उसे 170 रन पर समे​ट दिया और 139 रन के लक्ष्य को हासिल कर लिया। हालांकि भारतीय पारी के दौरान एक पल ऐसा भी आया जब रवींद्र जडेजा के आउट होने के बाद फैन्स भड़क गए। 

लंच के बाद कीवी गेंदबाज नील वैगनर ने जडेजा को काफी छोटी गेंदें डाली और अधिकतर समय तक उन्हें बैकफुट पर धकेले रखा। इसी बीच, वैगनर ने एक ऐसी गेंद डाली जोकि जडेजा के बल्ले का किनारा लेते हुए सीधे विकेटकीपर बीजे वाटलिंग के दस्तानों में कैद हो गई। लेकिन थर्ड अंपायर को देखना पड़ा कि क्या वैगनर का बैकफुट रिटर्न क्रीज को पार तो नहीं कर रहा था क्योंकि विकेटटेकिंग डिलीवरी के समय वह अपनी क्रीज को पार कर गए थे। एक रिप्ले में साफ दिख रहा था कि गेंदबाज का पैर रिर्टन क्रीज को क्रॉस कर चुका है। लेकिन इसके बावजूद थर्ड अंपायर ने जडेजा को आउट दे दिया। 

अंपायर के इस फैसले से फैन्स भड़क गए क्योंकि नियमों के मुताबिक, गेंदबाज के पैर की लैंडिंग पोजीशन रिटर्न क्रीज को नहीं छूनी होनी चाहिए ताकि इसे लीगल डिलीवरी माना जाए। इस नियम के अनुसार, नील वैगनर का बैकफुट रिटर्न क्रीज के पीछे था और हालांकि बाद में पैर आगे निकल गया, लेकिन गेंद के साथ कोई समस्या नहीं थी। इसलिए, जडेजा को आउट दिया गया और थर्ड अंपायर ने इसे नो-बॉल देना उचित नहीं समझा। जडेजा ने दूसरी पारी में दो चौकों की मदद से 49 गेंदों पर 16 रन बनाए। वहीं, वैगनर ने 15 ओवर में 44 रन देकर जडेजा के रूप में एक विकेट लिया।