WTC Final: रिजर्व डे के लिए आईसीसी ने बनाए नियम, अंपायर देंगे खेल के आखिरी घंटे की शुरुआत का संकेत

पूरे पांच दिन का खेल होने के बाद भी भारत और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप (डब्ल्यूटीसी) के फाइनल मैच का नतीजा अब तक नहीं निकल सका है। साउथम्पटन के एजिस बाउल में खेले जा रहे इस मैच में दो दिन से ज्यादा का खेल बारिश और खराब रोशनी की वजह से बर्बाद हो चुका है और इसलिए अब यह छठे दिन यानी रिजर्व डे पर भी खेला जाएगा। भारत दूसरी पारी में अब तक 32 रनों की बढ़त ले चुका है और आज 150 से 200 रन की बढ़त लेकर न्यूजीलैंड को दोबारा बल्लेबाजी करने के लिए आमंत्रित कर सकता है। रिजर्व डे के लिए आईसीसी ने कुछ नियम निर्धारित किए हैं, जिसमें उसने बताया है कि छठे दिन कितने ओवर फेंके जाएंगे और आखिरी घंटे में क्या होगा।

आईसीसी के नए नियमों के मुताबिक, रिजर्व डे के लिए अधिकतम अवधि 330 मिनट या 83 ओवर होगी। इसके अलावा आखिरी घंटे के समय को मैच के मुताबिक एक घंटा के लिए बढ़ाया जा सकता है। टेस्ट चैंपियनशिप का छठे दिन का खेल भारत के समय के अनुसार दोपहर 3:00 बजे से शुरू होगा और दिन में अधिकतम 98 ओवर फेंके जाने की संभावना होगी। वैसे इस मैच में एक दिन भी 98 ओवरों का खेल नहीं हो सका है।

आईसीसी के नियमों के अनुसार, अंपायर रिजर्व डे पर खेल के आखिरी घंटे की शुरुआत का संकेत देंगे। मैच ड्रॉ होने पर दोनों टीमों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित कर दिया जाएगा और मैच के बीच में यदि दोनों टीमों को लगा कि अब मैच का परिणाम नहीं आ सकता है तो दोनों कप्तान एक दूसरे से बात करके मैच को ड्रॉ करने का फैसला कर सकते है। 

मैच की बात करें तो भारत को अब तक कीवी टीम के ऊपर 32 रनों की बढ़त हासिल है। टीम ने दूसरी पारी में दो विकेट के नुकसान पर 64 रन बना लिए हैं। इससे पहले भारत के 217 रनों के जवाब में न्यूजीलैंड की पहली पारी 249 रनों पर समाप्त हुई। टीम की तरफ से कप्तान केन विलियमसन ने सर्वाधिक 49 रनों की पारी खेली। कीवी टीम को इस स्कोर तक सीमित रखने में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने सबसे बड़ी भूमिका निभाई। उन्होंने भारत की तरफ से सर्वाधिक चार विकेट झटके।