ईओ ने रविवार को निगरानी समिति का किया औचक निरीक्षण

हथगाम/फतेहपुर। अधिशासी अधिकारी मोहिनी केसरवानी रविवार को काफी सख्त नजर आईं।उन्होंने न केवल निगरानी समिति का निरीक्षण करते हुए अनुपस्थित आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों की सूचना संबंधित विभाग को दी बल्कि सफाई नायकों और कुछ सफाई कर्मचारियों को लापरवाही पर नोटिस भी दी।साथ ही उन्होंने लापरवाही पाए जाने पर कर्मचारियों को जमकर फटकार लगाई।रविवार को ही ईओ ने काजी हाउस में अतिक्रमण कारियों के विरुद्ध भी नोटिस जारी की है।

       टैक्स मुहर्रिर मोहम्मद खुशनूर,सफाई नायक आशुतोष तिवारी के साथ अधिशासी अधिकारी मोहनी केसरवानी ने सर्वप्रथम वार्ड नंबर छह में आंगनबाड़ी कार्यकत्री आशा बंधु के साथ कई घरों में जाकर बुखार के टेंपरेचर को नपवाया और स्वास्थ्य संबंधी हालचाल लिया।गजराज निर्मल,प्रेम कुमार निर्मल,विजय कुमार,राजेश निर्मल,ननका,सुरेश निर्मल,रवीन्द्र चैधरी आदि अनेक लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग अधिशासी अधिकारी ने अपने समक्ष करवाई और उसकी रिपोर्ट ली। आकस्मिक निरीक्षण के दौरान उन्होंने सभी वादों का भ्रमण किया जिसमें उन्होंने साफ सफाई का भी जायजा लिया।

           अधिशासी अधिकारी ने सर्दी,जुकाम,बुखार सहित स्वास्थ संबंधी बीमारियों के बारे में लोगों से जानकारी ली।उन्होंने वार्ड नंबर पांच में भी आंगनबाड़ी कार्यकत्री रुखसाना बेगम एवं वार्ड नंबर छह में आशा बंधु आंगनबाड़ी कार्यकत्री के साथ कई घरों में जाकर टेंपरेचर की नाप करवाते हुए लोगों के स्वास्थ्य का हालचाल लिया।नगर में स्वास्थ्य संबंधी रिकॉर्ड रखने के लिए नगर पंचायत की ओर से आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को सर्वे के लिए लगाया गया है जो घर घर जाकर टेंपरेचर और ऑक्सीजन की नाप के साथ-साथ दवा भी वितरित कर रही हैं। आंगनबाड़ी कार्यकत्री श्यामा गौतम,रुखसाना बेगम,मनोरमा देवी,गीता कश्यप,आशा बंधु,पुष्पा गुप्ता सहित सभी आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को निगरानी समिति में सर्वे का कार्य दिया गया है।वैसे तो संभ्रांत नागरिक और सभासदों को भी इसमें जोड़ा गया है लेकिन यह कार्य आंगनबाड़ी कार्यकत्री अकेले कर रही हैं।रविवार को अधिशासी अधिकारी मोहनी केसरवानी ने अवकाश के बावजूद वार्डों में जाकर आकस्मिक निरीक्षण किया तथा आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों के साथ थर्मल स्क्रीनिंग करवाई।पुष्पा,शशि एवं सुमन मौके पर नहीं पाई गईं।ईओ ने सीडीपीओ हथगाम को सूचित कर दिया है।

            मालूम हो कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर में अन्य स्थानों की जगह नगर में भी अकाल मौतें हुई हैं जिसमें कई संभ्रांत नागरिक भी इस दुनिया से चले गए।नगर में घर-घर सर्वेक्षण कर स्वास्थ्य संबंधी जानकारी लेने के लिए वैसे तो निगरानी समिति का गठन किया गया है लेकिन इसमें सिर्फ आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां ही सक्रिय नजर आ रही हैं।पिछले दिनों नोडल अधिकारी अपर जिलाधिकारी न्यायिक विनीता सिंह ने निगरानी समिति की विस्तृत बैठक ली थी लेकिन सरकारी तंत्र को छोड़कर किसी भी प्रकार का जन सहयोग नहीं मिल रहा है।जबकि अपर जिलाधिकारी ने जनसहयोग पर विशेष फोकस किया था।नगर पंचायत और सभासदों के बीच संवाद विहीनता के कारण सहयोग में भी गतिरोध बना हुआ है।