पेट्रोल व डीजल के दामों में की गयी बेतहाशा वृद्धि तत्काल वापिस हो: राजेश गुलाटी

सहारनपुर। सामाजिक उद्योग व्यापार मण्डल की जिला इकाई से व्यापारियों व आम जनता की विभिन्न समस्याओं के निराकरण की मांग को लेकर जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया तथा महामहिम राज्यपाल उ.प्र. को सम्बोधित एक तीन सूत्रीय ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपा।

प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष राजेश गुलाटी ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश में जिस तरह पेट्रोल व डीजल के दामो में अधिकतम टैक्स लगाकर जो वृद्धि की गयी है, उससे व्यापारी वर्ग में काफी रोष है तथा कोरोना के काल में जिस प्रकार व्यापारी की आर्थिक स्थिति व्यापार की मंदी के कारण कमजोर पड़ी है, ऐसे में इस तरह की वृद्धि कर डीजल पेट्रोल महंगा कर सरकार व्यापारी के साथ उसकी जेब पर डाका डालने का काम कर रही है, जिसका सामाजिक उद्योग व्यापार मण्डल पंजी. जिला सहारनपुर इकाई पूर्णतया विरोध करती है और मांग करती है कि पेट्रोल डीजल पर की गयी वृद्धि वापिस ली जाये। व्यापारियों ने मांग की कि पेट्रोल की कीमत 20 से 30 रूपये कम की जाये जिससे व्यापारी वर्ग इस कमजोर स्थिति अपने आने-जाने से जुड़े संसाधनों को चलाने में सक्षम रहे और उस पर उस पर सरकार द्वारा टैक्स वृद्धि कर कोई अन्य बोझ न थोपा जाए। 

राजेश गुलाटी ने कहा कि लाॅकडाउन में व्यापारियों की दुकानें बन्द रही। व्यापारी सरकार को सबसे अधिक टैक्स देता है। लाॅकडाउन में व्यापारियों के समक्ष आर्थिक संकट गहराया है। व्यापारियों के समक्ष रोजी रोटी का संकट गहरा गया है, क्योंकि व्यापार चैपट हो गये हैं। मंदी की मार झेल रहे हैं, इसलिए व्यापारियों को राहत पैकेज सरकार प्रदान करें तथा विद्युत बिलों को माफ करने का काम भी सरकार करें ताकि व्यापारी अपने रोजगार को पुनः संचालित कर सके। 

प्रदेश उपाध्यक्ष सचिन वर्मा ने कहा कि कोरोना काल की दूसरी लहर ने व्यापारी और आम इंसान की जमा पूंजी खत्म कर दिया है। निजी स्कूल द्वारा ऑनलाइन की पढाई करायी जा रही है, स्कूल बन्द हैं, और स्कूल फीस पूरी ली जा रही है। व्यापार मण्डल उत्तर प्रदेश सरकार से यह मांग करता है कि साल में 12 महीने होते हैं अगर निजी स्कूल तीन महीने की फीस माफ कर दे तो निश्चित ही अभिभावकों को थोड़ी राहत मिलेगी। व्यापार मण्डल यह मांग करता है कि सरकार तीन महीने की फीस माफी का तुरंत आदेश पारित करे। ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने वालों में मुख्य रूप से जिलाध्यक्ष राजेश गुलाटी, प्रदेश उपाध्यक्ष सचिन वर्मा, विनय अरोडा, राजू सुखीजा, नवीन अग्रवाल, सुमित सिडाना, विरेन्द्र बहल, संदीप चै., आदर्श भण्डारी, मोनू कुमार, मनोज विज, नीरज कपिल, आशू वोहरा, प्रिंस गर्ग, गौरव गहलोत, कृष्णा आदि मुख्य रहे।