परिसम्पत्तियों का समुचित रख-रखाव करें विभाग: डीएम

बहराइच । सांसद बहराइच अक्षयवर लाल गोंड की उपस्थिति में शनिवार को देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में सरकारी परिसम्पत्तियों के रख-रखाव तथा उन्हें अवैध कब्ज़े से मुक्त कराये जाने के सम्बन्ध में आहूत बैठक में जिलाधिकारी डाॅ. दिनेश चन्द्र ने निर्देश दिया कि सभी विभाग विभागीय सम्पत्तियों की पंजिका तैयार करें। यदि सरकारी भूमि पर किसी प्रकार का अवैध कब्ज़ा है तो उसे मुक्त कराया जाय। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिया कि यदि किसी सरकारी सम्पत्ति पर किसी विभागीय अधिकारी एवं कर्मचारी द्वारा अवैध रूप से कब्ज़ा कर रखा हो तो सम्पत्ति को मुक्त कराये जाने के साथ-साथ सम्बन्धित के विरूद्ध नियमानुसार कार्रवाई भी की जाय।

बैठक के दौरान मोहल्ला नव्वागढ़ी में जल निकासी की समस्या पर चर्चा के दौरान ईओ नगर पालिका परिसर बहराइच को निर्देश दिया कि नगर क्षेत्र में जलभराव की समस्या के समाधान हेतु प्रभावी कार्ययोजना तैयार कर उसकी प्रति मा. जनप्रतिनिधियों को भी उपलब्ध कराएं। गोण्डा एवं बलरामपुर से आने वाली सड़क के मिलान स्थल लखनऊ रोड हेतु भेजे गये प्रस्ताव की प्रति मा. जनप्रतिनिधियों को भी उपलब्ध करायी जाए ताकि वे भी सक्षम स्तर पर प्रयास कर सकें। बैठक के दौरान ग्राम भरथापुर के विस्थापन पर चर्चा के दौरान डीएफओ कतर्नियाघाट को निर्देश दिया गया कि कार्य में तेज़ी लायी जाय। 

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी कविता मीना, अपर जिलाधिकारी जयचन्द्र पाण्डेय, मुख्य राजस्व अधिकारी प्रदीप कुमार यादव, नगर मजिस्ट्रेट अनिल कुमार सिंह, प्रभागीय वनाधिकारी कतर्नियाघाट आकाश दीप बधावन, उप जिलाधिकारी सदर सौरभ गंगवार आईएएस, नानपारा के राम आसरे वर्मा, मोतीपुर के ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी, जिला विद्यालय निरीक्षक राजेन्द्र कुमार पाण्डेय, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत प्रदीप कुमार गुप्ता, अधि.अभि. लोक निर्माण खण्ड-1 ए.के. वर्मा, जल निगम के सौरभ सुमन, नलकूप खण्ड के कमलेश कुमार, ई.ओ. बहराइच पवन कुमार सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।