IPL 2021 को स्थगित करने के फैसले का शोएब अख्तर ने किया समर्थन

कोरोना के कई मामले सामने आने के बाद इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन को बीसीसीआई ने स्थगित करने का फैसला किया था। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने बीसीसीआई के इस फैसले को एकदम सही करार दिया है। शोएब ने कहा कि भारत में कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं और रोजाना लगभग 4 लाख से ज्यादा केस आ रहे हैं, ऐसे समय में आईपीएल को जारी नहीं रखा जा सकता था। 

अपने यूट्यूब चैनल पर बात करते हुए पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा, 'जब मैंने कुछ हफ्ते पहले यह बात कही थी कि आईपीएल को इस साल रोक देना चाहिए, तो उसके पीछे इमोशन थे। और वह यह था कि भारत में एक राष्ट्रीय प्रलय आ रही है। लोग मर रहे हैं। और मैंने अपील की थी, क्योंकि एक दिन में लगभग 4 लाख केस रिपोर्ट हो रहे थे। ऐसे समय में आईपीएल नहीं हो सकता, धूम-धड़ाका और शो नहीं हो सकते हैं। मुझे कोई समस्या नहीं है कि लोग पैसा नहीं बना पा रहे हैं। लोग साल 2008 से पैसा कमा रहे हैं। अगर वह एक साल नहीं पैसे नहीं कमा पाएंगे, तो उनको क्या दिक्कत हो जाएगी?लोग मर रहे हैं और आप ऐसे में शो नहीं कर सकते। यह एक नेशनल आपदा है। तो एक पड़ोसी होने के नाते, मैं रिक्वेस्ट कर रहा था कि आईपीएल को रोक दिया जाए।'

शोएब अख्तर ने कहा कि बायो-बबल फ्रेंचाइजी क्रिकेट के लिए उतना सफल नहीं है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान सुपर लीग के दौरान भी कोरोना के कई मामले सामने आए थे और एकदम यही आईपीएल के दौरान भी हुआ। हम इसको यूएई और इंग्लैंड में कर सकते हैं। पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा कि यहां पर होटल में काम करने वाले लोग सुरक्षित नहीं होते हैं, क्योंकि वह बायो-बबल में नहीं रहते हैं। उन्होंने कहा कि इंटरनेशनल क्रिकेट बायो-बबल में हो सकता है, लेकिन फ्रेंचाइजी क्रिकेट नहीं, क्योंकि इसमें पूरा विश्व आता है। आईपीएल के छोटा इवेंट नहीं है।