विलियमसन और कोहली को लेकर मोंटी पनेसर ने दिया बयान

इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर मोंटी पनेसर ने इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन के केन विलियमसन और विराट कोहली को लेकर दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया दी है। वॉन ने कहा था कि अगर केन वलियमसन भारतीय होते तो वो दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज होते। लेकिन विराट कोहली के रहते उन्हें कभी भी ऐसा नहीं कहा जाएगा, क्योंकि वे भारतीय नहीं हैं। वॉन की कप्तानी में खेल चुके मोंटी पनेसर का मानना है कि अगर विलियमसन इंडियन होते तो वे विराट कोहली का नहीं बल्कि अजिंक्य रहाणे का रिप्लेसमेंट होते। 

पनेसर ने स्पोर्ट्स यारी से बातचीत में कहा," मुझे लगता है कि दोनों (कोहली-विलियमसन) बहुत अच्छे हैं। दोनों किसी भी स्थिति में टीम को संभाल सकते हैं। अगर आप टी-20 इंटरनेशनल और वनडे इंटरनेशनल मैचों को देखें, तो तो विराट कोहली लक्ष्य का पीछा करने वाले सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी  हैं। लेकिन केन विलियमसन तीनों फॉर्मेंटों में समान रूप से अच्छा खेलते हैं। मुझे लगता है कि उनका स्तर रोहित शर्मा से ऊपर है लेकिन विराट कोहली से थोड़ा नीचे। अगर केन एक भारतीय होते, तो शायद वह टेस्ट बल्लेबाजी लाइन-अप में अजिंक्य रहाणे का आदर्श रिप्लेसमेंट होते।"

माइकल वॉन ने क्या कहा था?

कोहली और विलियमसन की तुलना करते हुए इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने 'स्पार्क स्पोर्ट' से बातचीत में कहा था कि अगर विलियमसन भारतीय होते तो वे दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी होते। लेकिन विराट कोहली के रहते उन्हें कभी भी ऐसा नहीं कहा जाएगा, क्योंकि वे भारतीय नहीं हैं। मुझे लगता है कि विलियमसन कभी भी विराट की बराबरी नहीं कर पाएंगे, क्योंकि उनके इंस्टाग्राम पर 100 मिलियन फॉलोवर्स नहीं हैं और वे ब्रांड एंडोर्समेंट के जरिए भी भारी भरकम कमाई नहीं करते हैं।