जुमातुल विदा को मनाया जाएगा विश्व कुद्स दिवस ,मौलाना कल्बे जवाद नकवी ने ऑनलाइन प्रदर्शन के लिये अपील की

लखनऊ। विश्व कुद्स दिवस के अवसर पर मजलिसे उलेमाए हिंद ने जुमातुल विदा 7 मई को ऑनलाइन विरोध प्रर्दशन करने की अपील करते हुए कहा कि  विश्व कुद्स दिवस के मौके पर इजरायली बर्बता एवं आतंकवाद के खिलाफ और फिलिस्तीनी मजलूमों के समर्थन में ऑनलाइन विरोध प्रर्दशन करना हमारा कर्तव्य है, ताकि वैश्विक शक्तियां महसूस करें कि इस करोना के वबाई जमाने में भी हम बैतुल मुकदस और मसलाए फिलिस्तीन से गाफिल नहीं हैं। अंतर्राष्ट्रीय कुद्स दिवस के अवसर पर, मौलाना सै0 कल्बे जवाद नकवी ने ऑनलाइन प्रर्दशन की अपील करते हुए कहा कि बलाए अव्वल बैतुल मुकदस की पुनःवापसी के लिए एहतेजाज करना हमारा धार्मिक और कघैमी कर्तव्य है। चूंकि हम कोरोना महामारी के पेशे नजर सड़कों पर विरोध प्रर्दशन नहीं कर सकते,इस लिये ऑनलाइन विरोध प्रर्दशन करना हमारी जिम्मेदारी है। मौलाना ने कहा कि 7 मई जुमातुल विदा के दिन वाट्सऐप ग्रुप्स, पर्सनल अकाउंट, फेसबुक स्टेटस, और दीगर सोशल साईटस पर’ इजराइल मुर्दाबाद’ और अलकुद्स लना की डी-पी लगाई जाये। यौमुल कुद्स के मौके पर तमाम अइम्माए जुमा, मजहबी व समाजी तंजीमंे और दीगर इदारे अपने विरोध की अवाज मेमोरेंडम के माध्यम से संयुक्त राष्ट्र, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यालय और स्थानीय प्रशासन तक ईमेल के जरिये जरूर पहुंचाए। 7 मई जुमातुल विदा को अपने अपने घरो में एहतेजाज के मुख्तलिफ तरीके अपनाते हुए उनकी मुनासिब और मुअस्सिर तस्वीरें और मुखतसर वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर डाले। मुमकिन हो तो एहतेजाजी बयानात अखबारों में भी भेजे जाये।