एमपी में स्कूल व कॉलेज खोलने को लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा कहा

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के भयानक प्रकोप के कारण पिछले डेढ़ माह से अधिक समय से मध्य प्रदेश में लागू कोरोना कर्फ्यू में अब धीरे-धीरे 1 जून से रियायत देने की प्रक्रिया शुरू होगी। प्रशासनिक स्तर पर कवायद तेजी से चल रही हैं। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया है कि निर्माण कार्य और अन्य कारोबारी गतिविधियों को 1 जून से शुरू किया जाएगा। स्कूल व कॉलेज खोलने को लेकर उन्होंने कहा कि शिक्षण संस्थान अनलॉक करने की प्रक्रिया के लिए एक मंत्री समूह बनाया गया है जो इस पर गहन मंथन करेगा। 

उन्होंने कहा, 'उच्च शिक्षा, स्कूली शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, चिकित्सा शिक्षा, कोचिंग से जुड़े सभी शैक्षणिक संस्थान कब से खोले जा सकते हैं और वहां किस तरह पढ़ाई शुरू की जा सकती है, इस पर समीक्षा के लिए मंत्रियों एक समूह बनाया गया है। ये समूह अपनी राय और रिपोर्ट मुख्यमंत्री को देगा। उसके बाद स्कूलों व कॉलेजों को खोलने पर निर्णय लिया जाएगा।'

एमपी में 1 जून से सरकारी दफ्तरों में भी कामकाज कुछ हद तक सामान्य हो सकेगा। कुछ पाबंदियों के साथ मंदिरों, मस्जिदों समेत सभी धार्मिक स्थलों को भी खोलने का फैसला लिया गया है। हालांकि सार्वजनिक गतिविधियों पर अभी रोक रहेगी। राजनीतिक, सांस्कृतिक और धार्मिक कार्यक्रमों में लोगों के जुटान पर रोक जारी रहेगी।