1 जुलाई से SBI ग्राहकों को तगड़ा झटका, ATM और चेकबुक से पैसा निकालना होगा महंगा

नई दिल्ली : स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के इन ग्राहकों को 1 जुलाई से तगड़ा झटका लगने वाला है। दरअसल SBI बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट (BSBD) खाताधारकों के लिए नए सर्विस चार्ज को 1 जुलाई 2021 से लागू कर रहा है। बैंक ने  एटीएम से निकासी, चेकबुक, मनी ट्रांसफर और नॉन फाइनेंशियल ट्रांजैक्शन पर सर्विस चार्ज को बढ़ाने का निर्णय लिया है। बैंक ने यह जानकारी अपनी वेबसाइट पर दी है। आइए आपको बताते हैं नए चार्जेज के बारे में सबकुछ: 

SBI ब्रांच से पैसा निकासी 

ग्राहक अगर महीने में बैंक से 4 बार से अधिक पैसा निकाला गया तब बैंक उसपर एडिशनल चार्ज वसूला जाएगा। इस ट्रांजैक्शन में बैंक के एटीएम भी शामिल हैं। सरल भाषा में कहें तो अगर आप चार बार से अधिक एसबीआई ब्रांच या एटीएम से पैसा निकालते हैं तो उसपर आपको 15 रुपये और जीएसटी जोड़ कर  शुल्क देना होगा। यह चार्ज हर एक अतिरिक्त ट्रांजैक्शन पर लगेगा। 

ATM में भी लिमिट 4 बार 

बीएसबीडी ग्राहक एसबीआई एटीएम और गैर एसबीआई से अगर चार बार से अधिक पैसा निकालता है तो उसे सर्विस चार्ज का भुगतान करना होगा। सर्विस चार्ज के नाम पर बैंक को 15 रुपये और जीएसटी चार्ज देना होगा। 

चेक बुक के लिए भी देना होगा पैसा 

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया बीएसबीडी खाता धारकों को 10 चेकबुक पर कोई चार्ज नहीं लेता है। लेकिन 10 के बाद 40 रुपये प्लस जीएसटी चार्ज किया जाता है। वहीं, 25 चेक वाली चेकबुक पर 75 रुपये चार्ज किए जाएंगे। जबकि इमरजेंसी चेकबुक पर 50 रुपये और जीएसटी चार्ज जोड़कर देना होगा। सीनीयर सिटीजन को इससे बाहर रखा गया है। 

SBI BSBD अकाउंट क्या है ? 

BSBD को आसान भाषा में जीरो बैलेंस अकाउंट बोला जाता है। इस बचत खाते की कई सारी खूबियां हैं। इस खाते में ग्राहक को एसबीआई के बचत खाते के बराबर ही ब्याज मिलता है, लेकिन साथ ही इस खाते में ग्राहकों को ऐसी कई स्पेशल सुविधाएं मिलती हैं, जो सामान्य बचत खाताधारकों को नहीं मिलती। इस खाते में ग्राहक को न्यूनतम बैलेंस रखने से छूट, फ्री एटीएम व डेबिट कार्ड और अधिकतम बैलेंस की सीमा से छूट सहित कई सुविधाएं मिलती हैं।

ये लोग खुलवा सकते हैं BSBD अकाउंट

एसबीआई बीएसबीडी अकाउंट को एसबीआई नेट बैंकिंग (SBI Net Banking) या एसबीआई ऑनलाइन सेवाओं के जरिए एसबीआई केवाईसी जरूरतों को पूरा कर खुलवाया जा सकता है। जिस किसी के पास वैध केवाईसी दस्तावेज हैं, वह यह अकाउंट खुलवा सकता है। इस खाते को व्यक्तिगत, संयुक्त, या उत्तराधिकारी आधार पर खाता खुलवाया जा सकता है। भारतीय स्टेट बैंक की वेबसाइट के अनुसार, इस समय बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट अकाउंट पर 2।75 फीसद सालाना की दर से ब्याज दिया जा रहा है।