IND vs ENG: बीच मैदान पर भिड़े क्रुणाल पांड्या-टॉम करन

दो युवा खिलाड़ियों के डेब्यू मैच में धमाकेदार प्रदर्शन से टीम इंडिया ने इंग्लैंड को पहले वनडे में 66 रनों से हरा दिया। 205 रनों पर पांच विकेट गंवाने के बाद डेब्यूटेंट क्रुणाल पांड्या ने क्रीज पर कदम रखा और केएल राहुल के संग मिलकर भारत को मजबूत स्कोर तक पहुंचाया। क्रुणाल ने 31 गेंद में नाबाद 58 रन बनाए जो इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू पर किसी भारतीय बल्लेबाज का सबसे तेज अर्धशतक है। इस पारी के दौरान एक ऐसा पल भी आया, जब क्रुणाल और इंग्लैंड के तेज गेंदबाज टॉम करन किसी बात पर उलझ गए। बाद में अंपायर को बीच-बचाव के लिए आना पड़ा।

बता दें कि यह वाकया भारतीय पारी के 49वें ओवर का है। यहां टॉम अपने कोटे का आखिरी ओवर फेंक रहे थे। इस दौरान दोनों खिलाड़ियों के बीच कुछ कहासुनी हुई। इसके बाद इंग्‍लैंड के विकेटकीपर जॉस बटलर भी जल्‍दी ही टॉम के पास पहुंच गए और वह भी क्रुणाल को कुछ कहते नजर आए। कैमरा डगआउट में बैठे भारतीय कप्तान कोहली की तरफ गया तो वह इस पूरे मामले से हैरान नजर आए।

इस समय तक केएल राहुल और क्रुणाल पांड्या ने भारतीय पारी को पूरी तरह से संवार लिया था। दोनों ने आपस में छठे विकेट के लिए नॉटआउट 112 रनों साझेदारी की, जिसके दम पर भारतीय टीम निर्धारित ओवरों में 317 रनों का बड़ा स्कोर बनाने में सफल रही। टॉम करन के लिए यह मैच कुछ खास नहीं रहा, क्योंकि उन्होंने 10 ओवरों में 63 रन लुटा दिए और उन्हें एक भी विकेट नहीं मिल सका। 

अपना पहला वनडे खेल रहे क्रुणाल ने इस मैच में सबसे तेज फिफ्टी बनाने का रिकॉर्ड तोड़ा। उन्‍होंने न्‍यूजीलैंड के जॉन मॉरिस का रिकॉर्ड तोड़ा, जिन्‍होंने अपने डेब्‍यू मैच में 35 गेंदों में हॉफ सेंचुरी लगाई थी। क्रुणाल ने पचासा जड़ते ही बैट सबसे पहले आसमान की ओर दिखाया और पिता को याद किया। गौरतलब है कि हाल ही में क्रुणाल और हार्दिक के पिता का निधन हुआ था। क्रुणाल पांड्या 31 गेंद पर 58 रन बनाकर नॉटआउट लौटे। उनके जोड़ीदार केएल राहुल ने भी 43 गेंदों पर 62 रन बनाकर फॉर्म में वापसी की, जो टी-20 सीरीज में बुरी तरह असफल रहे थे।