मेरठ, सहारनपुर और मुरादाबाद मंडल के नौजवान पहुंचेंगे गाजीपुर बार्डर

गाजियाबाद। दिल्ली की सरहदों पर चल रहे किसान आंदोलन में सोमवार को शहीदी दिवस की तैयारियां चलती रहीं। यूपी गेट (गाजीपुर बार्डर) पर जहां आंदोलन कमेटी की ओर से प्रेसवार्ता कर संयुक्त मोर्चा के कार्यक्रमों की जानकारी दी गई वहीं शहीदी दिवस के बारे में भी बताया गया। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत शहीदी दिवस के मौके पर राजस्थान में रहेंगे। उन्होंने पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मेरठ, सहारनपुर और मुरादाबाद मंडल के नौजवान किसानों से इस मौके पर गाजीपुर बार्डर पहुंचने का आव्हान किया है। आव्हान यह भी किया गया है कि सभी नौजवान इस दिन शहीदे आजम सरदार भगत सिंह की पसंदीदा पीली पगड़ी बांधकर पहुंचें। राकेश टिकैत ने कहा है कि दूर दराज के किसान अपने जनपद में ही शहीदी‌ दिवस मनाते हुए सरदार भगत सिंह, राजगुरू और सुखदेख का श्रद्घांजलि अर्पित करें। बता दें कि 23 मार्च, 1931 को अंग्रेजी सरकार ने भारत मां के इन तीनों सपूतों को फांसी दे दी थी। 

यूपी गेट पर सोमवार को आयोजित प्रेसवार्ता में भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष राजवीर सिंह जादौन, गाजीपुर आंदोलन कमेटी के प्रवक्ता जगतार सिंह बाजवा, भाकियू के प्रेस प्रभारी शमशेर सिंह राणा और अन्य किसान नेताओं ने बताया कि शहीदी दिवस में उत्तराखण्ड और पंजाब के युवा किसान भी गाजीपुर बार्डर पहुंचेंगे। दिन भर उनकी शहादत और उनके द्वारा किये गए आँदोलन तथा विचारधारा पर चर्चा की जायेगी। देश भक्ति कार्यक्रम के बाद शाम को शहीद-ए-आजम स्वाभिमान मार्च निकाला जायेगा। कार्यक्रम में सिंगर अजय हुड्डा आदि भी शिरकत कर रहे हैं। सोमवार को गाजीपुर बार्डर पर चल रही शहीदी दिवस की तैयारियों में चौधरी गौरव टिकैत, विपिन चौधरी, सरदार कल्याण सिंह ढिल्लों, सरदार दलविंदर सिंह ढिल्लों, कोशर चौधरी, सलीम, यतींद्र, विशाल त्यागी, चौधरी राजवीर सिंह, चौधरी बिजेंद्र सिंह, चौधरी गजेंद्र सिंह, अतुल त्रिपाठी और राहुल यादव आदि शामिल रहे।

सोमवार को अनशन पर रहने वाले किसान
सोमवार को गाजीपुर बॉर्डर पर आँदोलन के 117वां दिन था। सोमवार को 24 घंटे क्रमिक अनशन पर बैठने वालों में महेन्द्र सिंह, तेजवीर सिंह, वीरेंद्र सिंह चौधरी, चौ. चरण सिंह, महेंद्र सिंह यादव, गुरदीप सिंह, जोगा सिंह, बलविंदर सिंह, अजीत पाल, मनप्रीत सिंह,  सुरेश चन्द्र और नत्थू सिंह यादव शामिल रहे। मंच संचालन ओमपाल मलिक ने किया।