दिल्ली से उठा बस्ती में फर्जी मुठभेड़, मानवाधिकार आयोग से शिकायत

लखनऊ। एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर ने दिल्ली से पकड़ कर थाना परसरामपुर, जनपद बस्ती में फर्जी पुलिस मुठभेड़ तथा पुलिस द्वारा अन्य फर्जी मुकदमे में फंसाने के आरोपों के सम्बन्ध में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में शिकायत की है। अपनी शिकायत में नूतन ने कहा कि उन्हें बस्ती के अनिल कुमार चौबे द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार बस्ती पुलिस ने उनके लडके सूरज चौबे को दीपक शुक्ला तथा अमित शुक्ला के साथ एम ब्लाक, मोहन गार्डन, नन्दलाल मंदिर, उत्तम नगर, दिल्ली इलाके से 13 मार्च 2021 को समय लगभग 14.00 बजे उठाया। बस्ती पुलिस ने अगले दिन दावा किया कि दीपक शुक्ला को प्रातः 04. 22 बजे पुलिस द्वारा एक मुठभेड़ में गिरफ्तार किया गया जिनके पास से 0.32 बोर के एक अदद पिस्टल तथा 2.जिन्दा व 3 प्रयुक्त कारतूस बरामद हुए जबकि सूरज की 15 फरवरी को गिरफ्तारी दिखाई गयी। नूतन ने कहा कि उन्हें इन लड़कों को दिल्ली से उठाये जाने के सम्बन्ध में 0.35 मिनट तथा 4.56 मिनट के 2 सीसीटीवी रिकॉर्डिंग दिए गए हैं, जिसमे एक सफेद कार में तीन लड़कों को बारी-बारी बैठाया जाना साफ दिख रहा है. अनिल चौबे के अनुसार ये तीनों लड़के सूरज चौबे, दीपक शुक्ला तथा अमित शुक्ला हैं। नूतन ने इसे अत्यंत गंभीर और प्रथमद्रष्टया फर्जी पुलिस मुठभेड़ की सम्भावना बताते हुए आयोग को अपने स्तर से जाँच कराते हुए विधिक कार्यवाही कराये जाने की मांग की है।