कोविड वैक्सीनेशन में प्रदेश में दूसरा स्थान प्राप्त करने पर आयुक्त ने दी बधाई

बाहर से आने वालों की शत-प्रतिशत जाॅच की जाए: आयुक्त

बहराइच। आयुक्त देवीपाटन श्री एस.वी.एस. रंगाराव ने जनपद भ्रमण कार्यक्रम के दौरान कलेक्ट्रेट सभागार में जिले के अधिकारियों के साथ कोविड-19 के प्रबन्धन की स्थिति की समीक्षा करते हुए कोविड वैक्सीनेशन में जनपद में दूसरा स्थान प्राप्त होने पर ‘‘गुडवर्क’’ कहते हुए सभी सम्बन्धित अधिकारियों के प्रयासों की सराहना करते हुए जनपद के सभी राजस्व ग्रामों के लक्षित वर्ग का शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने की कार्यवाही की जाय। आयुक्त ने निर्देश दिया कि बाहर से आने वाले लोगों की शत-प्रतिशत जाॅच करायी जाय। कोविड-19 के सुरक्षात्मक प्रोटोकाॅल का कड़ाई के साथ अनुपालन कराया जाय। नियमों का पालन न करने वालों के विरूद्ध नियमानुसार कार्रवाई भी अमल में लायी जाय। उन्होंने जाॅच की स्थिति, एक्टिव मरीज़ों की संख्या तथा वैक्सीन की उपलब्धता इत्यादि के बारे में भी जानकारी प्राप्त कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये। 

त्रिस्तरीय पंचायत सामान्य निर्वाचन-2021 की तैयारियों की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने बताया कि सभी विकास खण्ड मुख्यालयों को नामाॅकन इत्यादि से सम्बन्धित प्रपत्र, मतपेटिका, वोटर लिस्ट इत्यादि उपलब्ध करा दी गयीं हैं। आर.ओ. व ए.आर.ओ. की नियुक्ति की प्रक्रिया को पूर्ण कर ली गयी है तथा मतदान कार्य हेतु कार्मिकों एवं वाहनों इत्यादि का आगणन भी कर लिया गया है। इसके अलावा संवेदनशीलता के अनुसार मतदान केन्द्रों का चिन्हाॅकन भी कर लिया गया है। आयुक्त ने निर्देश दिया कि 05 बूथ से अधिक वाले मतदान केन्द्रों का एस.डी.एम. व सी.ओ. संयुक्त रूप से स्थलीय सत्यापन कर मूलभूत सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त कर तद्नुसार कार्यवाही सुनिश्चित करायें। 

कानून व्यवस्था, गैंगेस्टर अधिनियम के अन्तर्गत कार्यवाही, अवैध शराब बिक्री, निर्माण, संचरण पर नियंत्रण के सम्बन्ध में की गयी कार्यवाही की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया कि प्रवर्तन की प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित की जाय। प्रवर्तन की कार्यवाही के दौरान यदि कोई प्रकरण उजागर होता है तो सम्बन्धित के विरूद्ध कठोर कार्रवाई में अमल में लायी जाये ताकि दूसरे लोग भी सबक सीख सकें। पंचायत निर्वाचन के दृष्टिगत आयुक्त ने निर्देश दिया कि मादक पदार्थाें के अनुज्ञापियों के दुकान, गोदाम व भण्डारण इत्यादि की गहनता से निरन्तर जाॅच की कार्यवाही सुनिश्चित की जाय। 

आयुक्त ने एस.एस.पी. को निर्देश दिया कि थानावार समीक्षा कर लम्बित प्रकरणों विशेषकर महिला उत्पीड़न से सम्बन्धित मामलों का निस्तारण करायें। जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिया गया कि पारिवारिक लाभ योजना के लम्बित प्रार्थना-पत्रों की समीक्षा कर पेंडेन्सी समाप्त कराएं। खाद्यान्न वितरण की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने निर्देश दिया कि वितरण से सम्बन्धित लम्बित प्रकरणों का एक सप्ताह में निस्तारण सुनिश्चित कराएं। गेहूॅ क्रय के सम्बन्ध की गयी तैयारी की समीक्षा के दौरान जिला खाद्य विपणन अधिकारी ने बताया कि सभी तैयारियाॅ पूर्ण कर ली गयी है। आयुक्त ने निर्देश दिया कि धान खरीद के दौरान ऐसे कार्मिकों जिनके विरूद्ध कार्रवाई की गयी ऐसे मामलों में आरोप-पत्र इत्यादि की कार्यवाही भी पूर्ण कर ली जाय।

जल जीवन मिशन की तैयारियों की समीक्षा करते हुए आयुक्त ने निर्देश दिया कि जनपद में आवश्यकतानुरूप नये तालाबों के निर्माण की कार्यवाही की जाय तथा पूर्व से विद्यमान जलस्रोतों के इनलेट व सिल्ट  इत्यादि की समुचित साफ-सफाई वर्षाकाल से पूर्व ही करा दी जाय। पीएम स्वानिधि योजना के प्रगति की समीक्षा के दौरान एल.डी.एम. को निर्देश दिये गये कि योजना से सम्बन्धित लम्बित प्रार्थना-पत्रों का इसी सप्ताह निस्तारण सुनिश्चित करें। इसी प्रकार अन्य रोज़गारपरक योजनाओं से सम्बन्धित ऋण पत्रावलियों के निस्तारण को भी शीर्ष प्राथमिकता प्रदान की जाय। बैठक के दौरान नगर निकायों के अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि वर्षाकाल से पूर्व सभी छोटे-बड़े नाले-नालियों की समुचित साफ-सफाई की कार्यवाही समय से पूर्ण कर ली जाय। 

इस अवसर पर जिलाधिकारी शम्भु कुमार, एस.एस.पी. डाॅ. विपिन कुमार मिश्र, सी.डी.ओ. कविता मीना, ए.डी.एम. जयचन्द्र पाण्डेय, सी.आर.ओ. प्रदीप कुमार यादव, नगर मजिस्ट्रेट अनिल कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी सदर सौरभ गंगवार आईएएस, सी.एम.ओ. डाॅ. राजेश मोहन श्रीवास्वत, डी.डी.ओ. राजेश कुमार मिश्र, पीडी डीआरडीए अनिल कुमार सिंह, डीएसओ अनन्त प्रताप सिंह, जिला खाद्य विपणन अधिकारी संजीव कुमार सिंह, डीपीआरओ उमाकान्त पाण्डेय, जिला समाज कल्याण अधिकारी आर.पी. सिंह, पीओ डूडा संजय कुमार सिंह, ई.ओ. पवन कुमार, जिला अभिहित अधिकारी विनोद कुमार शर्मा सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।